Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

किसानों का विरोध प्रदर्शन: 2 स्टेडियम बने अस्थायी जेल, 3 राज्यों के बॉर्डर सील, रास्ते में बिछे बैरिकेड और कील

delhi borders seal- India TV Hindi

Image Source : PTI
दिल्ली से सटे हरियाणा और पंजाब के सभी बॉर्डर सील

13 फरवरी को होने वाले किसानों के ‘दिल्ली चलो’ मार्च को देखते हुए पंजाब से लेकर दिल्ली तक हाइ अलर्ट है। पंजाब के कई इलाकों से किसान अपने ट्रैक्टर पर बैठकर रवाना हो चुके हैं। तो उनको दिल्ली पहुंचने से रोकने के लिए चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। हाईवे पर बैरिकेडिंग की गई है, इधर किसानों की कूच को लेकर हरियाणा पुलिस भी बेहद सर्तक है। इतना ही नहीं हरियाणा सरकार ने चौधरी दलबीर सिंह इंडोर स्टेडियम सिरसा और गुरु गोविंद सिंह स्टेडियम डबवाली को अस्थायी जेल बनाया है। 

प्रशासन ने लगाए विशालकाय बैरिकेड और नुकीली कीलें 

हरियाणा के 15 जिलों में धारा 144 लागू की गई है तो 7 जिलों में 13 फरवरी तक इंटरनेट बंद है। ड्रोन के जरिए हालात पर नजर रखे जा रहे हैं। दिल्ली से सटे हरियाणा और पंजाब के बॉर्डर को सील करने के लिए कंक्रीट के विशालकाय बैरिकेड लगाए गए हैं और साथ ही सड़क पर नुकीली कीलें और कंटीले तार लगाकर पूरी तरह से अभेद बना दिया है। इधर किसानों के प्रदर्शन को कांग्रेस ने भी सपोर्ट किया है। पंजाब की एक मीटिंग में कांग्रेस अध्यक्ष खरगे ने किसानों के आंदोलन को सपोर्ट करने की बात कही। गौरतलब है कि पिछली बार के मुकाबले इस बार पंजाब से आ रहे किसानों को रोकने के लिए प्रशासन ज्यादा मुस्तैद है। शंभू बोर्डर सील है, काटों की तारे लगा दी गई हैं और रास्ते पर लोहे के कांटे लगा दिए गए हैं। वही नहर के पास भी गढ्ढे खोद दिए गए है तो हरियाणा पुलिस ने भी दिल्ली पहुंचने से पहले ही किसानों को रोकने के इंतजाम किए हैं।

किसान संगठनों के साथ मोदी के 3 मंत्री करेंगे बात

रविवार को अंबाला में प्रोटेस्ट के लिए निकले किसानों के ऊपर पुलिस ने टियर गैस के गोले छोड़े। 8-10 आंसू गैस के गोले दागगर किसानों को खदेड़ा गया। इसी बीच सरकार भी किसान संगठनों से लागातार संपर्क बनाए हुए हैं। गुरुवार को पहले दौर की बातचीत नाकाम हुई थी, जिसके बाद किसानों ने 13 फरवरी के प्रोटेस्ट का एलान किया है। तो किसान संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ तीन केन्द्रीय मंत्री बैठक करेंगे। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, अर्जुन मुंडा और नित्यानंद राय को किसान संगठनों के साथ बातचीत करने का जिम्मा सौंपा गया है। ये तीनों मंत्री संयुक्त किसान मोर्चा (गैर-राजनीतिक) और किसान मजदूर मोर्चा के प्रतिनिधिमंडल के साथ मीटिंग करने वाले हैं। ये बैठक आज शाम 5 बजे चंडीगढ़ के महात्मा गांधी स्टेट इंस्टीट्य़ूट में हो सकती है।

टीकरी, सिंघु और गाजीपुर बॉर्डर पूरी तरह सील

पंजाब से किसान दिल्ली के लिए निकल चुके हैं, तो हरियाणा और दिल्ली में इन्हें रोकने के लिए जबरदस्त नाकेबंदी की गई है। किसानों को दिल्ली आने से रोकने के लिए टीकरी और गाजीपुर बॉर्डर पर नाकेबंदी के साथ साथ ड्रोन से निगरानी की जा रही है। हरियाणा से लगी सीमाएं सील कर दी गई हैं। टीकरी, सिंघु और गाजीपुर बॉर्डर पर पुलिस तैनात है। दिल्ली पुलिस कमिश्नर संजय अरोड़ा ने किसानों के मार्च से पहले तीनों ही बॉर्डर पर पहुंचकर सुरक्षा का जायजा लिया। इसके आलाव हरियाणा सरकार सिरसा का चौधरी दलबीर सिंह इंडोर स्टेडियम और डबवाली के गुरु गोविंद सिंह स्टेडियम को अस्थायी जेल बना दिया है। लिहाजा अगर जरूरत पड़ी तो किसानों को बड़ी संख्या में  हिरासत में लेने या गिरफ्तार करके इन अस्थाई जेलों में रखा जाएगा। 

ये भी पढ़ें-

Latest India News

Source link

cgliveupdate
Author: cgliveupdate

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल