Rajat Sharma’s Blog: मोदी ने उम्मीदवारों की सूची से क्या संदेश दिया?

इंडिया टीवी के चेयरमैन एवं एडिटर-इन-चीफ रजत शर्मा।- India TV Hindi

Image Source : INDIA TV
इंडिया टीवी के चेयरमैन एवं एडिटर-इन-चीफ रजत शर्मा।

लोकसभा चुनावों के लिए बीजेपी ने बुधवार को 72 उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी कर दी। इसमें महाराष्ट्र, गुजरात, दिल्ली, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, हिमाचल, कर्नाटक, तेलंगाना, त्रिपुरा और दादरा नगर हवेली की सीटें शामिल हैं। इस सूची में कई बड़े और चर्चित नाम हैं, जैसे हरियाणा में मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने वाले मनोहर लाल खट्टर, जो करनाल से चुनाव लड़ेंगे। चूंकि बार बार नितिन गड़करी के टिकट को लेकर आशंकाएं जताई जा रही थी तो बीजेपी ने नागपुर से गड़करी के नाम का एलान करके सारी शंकाओं, आशंकाओं और चर्चाओं पर विराम लगा दिया। 

बीजेपी के एक और वरिष्ठ नेता वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल पहली बार लोकसभा के चुनाव में नॉर्थ मुंबई से मैदान में होंगे। वह अब तक राज्य सभा में रहे हैं। महाराष्ट्र के बीड़ से पंकजा मुंडे के टिकट दिया गया है। बीजेपी के मीडिया सेल के प्रमुख अनिल बलूनी गढ़वाल से चुनाव मैदान में उतरेंगें। बीजेपी ने पूर्वी दिल्ली से हर्ष मल्होत्रा को टिकट दिया है। हर्ष मल्होत्रा पूर्वी दिल्ली एमसीडी के मेयर रह चुके हैं। इस सीट से गौतम गंभीर पिछली बार जीते थे। चूंकि ये पहले से तय हो गया था कि गौतम गंभीर को इस बार टिकट नहीं मिलेगा, पहली लिस्ट में उनका नाम नहीं आया। इसीलिए गौतम गंभीर ने कह दिया था कि वो इस बार चुनाव नहीं लड़ेंगे। इसी तरह उत्तर पश्चिमी दिल्ली से बीजेपी ने हंसराज हंस का टिकट काट दिया है। इस सीट से योगेंद्र चंदोलिया चुनाव लड़ेंगे,  चंदोलिया दिल्ली प्रदेश बीजेपी के महासचिव हैं। 

सबसे चौंकाने वाली बात ये है कि महाराष्ट्र में एकनाथ शिन्दे और अजीत पवार के साथ अभी सीटों के बंटवारे का ऐलान नहीं हुआ है लेकिन इससे पहले ही बीजेपी ने 20 सीटों पर अपने उम्मीदवार घोषित कर दिए। इनमें से 13 वर्तमान सांसद हैं। सात सीटों पर नए चेहरों को मौक़ा मिला है। नितिन गडकरी एक बार फिर नागपुर से चुनाव लड़ेंगे। राज्य सभा में सदन के नेता पीयूष गोयल पहली बार लोकसभा चुनाव लड़ेंगे। उन्हें उत्तरी मुंबई से उम्मीदवार बनाया गया है। चंद्रपुर से महाराष्ट्र सरकार के वन मंत्री सुधीर मुनगंटीवार को टिकट मिला है, वहीं बीड से गोपीनाथ मुंडे की बेटी प्रीतम मुंडे का टिकट काटकर उनकी छोटी बहन पंकजा मुंडे को उम्मीदवार बनाया गया है। जालना से केंद्रीय मंत्री रावसाहेब दानवे को उम्मीदवार बनाया गया है।  नंदुरबार से हिना गावित को एक बार फिर टिकट मिला है। अहमदनगर से राधाकृष्ण विखे पाटिल को और डिंडोरी से केंद्रीय मंत्री भारती पवार को टिकट मिले हैं।  

बीजेपी छोड़कर शरद पवार की एनसीपी में शामिल हो चुके एकनाथ खड़से की बहू रक्षा खड़से को बीजेपी ने रावेर सीट से उम्मीदवार बनाया है। अकोला से मौजूदा सांसद संजय धोत्रे की जगह उनके बेटे अनूप धोत्रे को उतारा गया है। पुणे के मेयर मुरलीधर मोहोल भी एक नया चेहरा हैं जिन्हें बीजेपी ने मौक़ा दिया है। हरियाणा की 10 सीटों में से 6 पर बीजेपी ने अपने उम्मीदवार उतार दिए हैं। बीजेपी ने दो उम्मीदवार इस बार बदल दिए। पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर करनाल से उम्मीदवार होंगे। यहां से पिछली बार संजय भाटिया चुनाव जीते थे। बीजेपी ने सिरसा से इस बार सुनीता दुग्गल की जगह अशोक तंवर को उतारा है। इसके अलावा अंबाला से बंतो कटारिया, भिवानी महेंद्रगढ़ से चौधरी धरमबीर सिंह, गुरुग्राम से राव इंद्रजीत सिंह और फरीदाबाद से कृष्ण पाल गुर्जर को बीजेपी ने उम्मीदवार बनाया है। सोनीपत, रोहतक, कुरुक्षेत्र व हिसार का फैसला अभी हुआ नहीं है। 

बीजेपी ने उत्तराखंड की बाकी बची दो सीटों पर भी उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी। गढ़वाल से अनिल बलूनी और हरिद्वार से पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को टिकट दिया गया है। अनिल बलूनी पहली बार लोकसभा चुनाव लड़ेंगे जबकि हरिद्वार से रमेश पोखरियाल निशंक और गढ़वाल से तीरथ सिंह रावत के टिकट इस बार काट दिए गए हैं। गुजरात की 26 में से 22 सीटों पर बीजेपी ने उम्मीदवार घोषित कर दिए हैं। इनमें दस नए चेहरे हैं। सबसे बड़ा उलटफेर बीजेपी ने कर्नाटक में किया है। पार्टी ने कर्नाटक की बीस सीटों पर उम्मीदवारों के नामों का एलान किया, इनमें से दस सीटों पर नए उम्मीदवार दिए गए हैं।  कर्नाटक के प्रमुख नामों में दक्षिण बैंगलुरू से तेजस्वी सूर्या, उत्तरी बैंगलुरू से शोभा करंदलाजे, धारवाड़ से प्रहलाद जोशी, बी.एस. येदियुरप्पा की पारम्परिक सीट शिमोगा से उनके बेटे बी. वाई. राघवेंद्र को टिकट दिया गया है।  शोभा करंदलाजे इस समय उडुपी-चिकमंगलूर से सांसद हैं, उनकी सीट बदली गई है। 

पूर्व मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई को हावेरी से टिकट दिया गया है। पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा के दामाद सी एन मंजुनाथ को बैंगलुरू रूरल से टिकट दिया गया है। मैसूर से राजपरिवार के सदस्य यदुवीर कृष्णदत्त चामराज वाडियार को टिकट दिया गया है। मैसूर से पहले प्रताप सिम्हा  बीजेपी के सांसद थे, उनके दस्तखत किये गये पास पर तीन लोगों ने संसद की सुरक्षा में सेंध लगाई थी। बेल्लारी से बीजेपी ने बी.श्रीरामुलू को प्रत्याशी बनाया है। बीजेपी की जो सूची आई है और पहले जो सूची आई थी, उनसे संदेश साफ है। पहली बात, जिस-जिस MP ने उल्टे सीधे बयान दिए, विवाद खड़े किए या पार्टी के लिए परेशानी पैदा की, उसका टिकट काट दिया गया। जैसे दिल्ली से रमेश बिधूड़ी। मैसूर के सांसद प्रताप सिम्हा का टिकट काटा गया क्योंकि जिन लोगों ने संसद की सुरक्षा में सेंध लगाई थी। उनके पास  प्रताप सिम्हा ने दिलाए थे। 

महाराष्ट्र में पंकजा मुंडे को टिकट दिया गया और विवाद खड़े करने वाली प्रीतम मुंडे का टिकट काट दिया गया। दूसरी बात, पार्टी के सभी सीनियर नेताओं को मान दिया गया, चाहे नितिन गडकरी हों या पीयूष गोयल। उन्हें सम्मानजनक तरीके से अपनी पसंद की सीटें दी गईं, किसी भी ऐसे नेता का टिकट नहीं काटा गया जिसको लेकर मीडिया में उल्टी-सीधी अटकलें लगाई जा रहीं थीं। तीसरी बात, ये चुनाव नरेंद्र मोदी के नाम और उनके काम पर लड़ा जाएगा। इसीलिए बहुत सारी जगहों पर बीजेपी ने नए लोगों को मौका दिया है। जैसे दिल्ली में सात में से सिर्फ एक सांसद, मनोज तिवारी को टिकट दिया गया, बाकी 6 सीटों पर नए उम्मीदवार उतारे गए हैं। 

गुजरात में भी 22 में से 10 नए चेहरे हैं। एक और बड़ी बात ये है कि बीजेपी ने अपने अलायंस पार्टनर्स के साथ बात करके सीट बंटवारे का रास्ता निकाल लिया है। इसका एक बड़ा उदाहरण बिहार है, जहां चिराग पासवान और उनके चाचा पशुपति पारस के बीच झगड़ा सुलझाना मुश्किल हो गया था। बीजेपी ने चिराग पासवान की पार्टी के लिए 5 सीटें छोड़ी है। इसी तरह बीजेपी ने तमिलनाडु में अन्ना डीएमके के पनीर सेलवम के गुट से एलायन्स कर लिया है। उडीसा में बीजू जनता दल के साथ गठबंधन के लिए बातचीत जारी है।

Latest India News

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *