जगन मोहन रेड्डी की YSRCP घोषित किए लोकसभा और विधानसभा के सभी प्रत्याशी, देखें पूरी लिस्ट

YSRCP घोषित किए प्रत्याशियों के नाम।- India TV Hindi

Image Source : PTI
YSRCP घोषित किए प्रत्याशियों के नाम।

अमरावती: वाईएस जगन मोहन रेड्डी के नेतृत्व वाली युवजन श्रमिक रायथू कांग्रेस पार्टी (YSRCP) ने आज अपने सभी प्रत्याशियों के नामों का ऐलान कर दिया है। उन्होंने आंध्र प्रदेश की सभी 175 विधानसभा सीटों और 25 लोकसभा क्षेत्रों के लिए उम्मीदवारों की सूची की घोषणा कर दी है। सत्तारूढ़ वाईएसआरसीपी ने कडपा जिले के इडुपुलुपाया में पार्टी सुप्रीमो वाईएस जगन मोहन रेड्डी की उपस्थिति में आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वाईएस राजशेखर रेड्डी की ‘समाधि’ पर उम्मीदवारों की सूची की घोषणा की। 

ये हैं अहम प्रत्याशी

बापटला के सांसद नंदीगाम सुरेश ने लोकसभा चुनाव के लिए सूची से उम्मीदवारों के नाम पढ़कर बताए, जबकि राजस्व मंत्री डी. प्रसाद राव ने विधानसभा चुनाव के लिए सूची से प्रत्याशियों के नाम बताए। सूची के अनुसार, बी. झांसी लक्ष्मी विशाखापत्तनम लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ेंगी, जबकि जी. उमा बाला नरसापुरम से उम्मीदवार होंगी और वी. विजयसाई रेड्डी नेल्लोर से अपनी किस्मत आजमाएंगे। निवर्तमान सांसद वाईएस अविनाश रेड्डी कडपा लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ेंगे। 

टीडीपी और बीजेपी से मुकाबला

वहीं दूसरी तरफ देखा जाए तो तेलुगु देशम पार्टी का नेतृत्व कर रहे चंद्रबाबू नायडू ने हाल ही में भारतीय जनता पार्टी और जेएसपी के साथ गठबंधन का ऐलान किया है। लोकसभा और विधानसभा के चुनावों में ये तीन पार्टियां वाईएसआरसीपी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगी। बता दें राज्य में अभी वाईएसआरसीपी की सरकार है, जहां जगन मोहन रेड्डी मुख्यमंत्री हैं। वहीं टीडीपी के साथ गठबंधन करके भारतीय जनता पार्टी भी दक्षिण के राज्यों में अपनी पकड़ बनाने का प्रयास कर रही है। 

BJP की होगी अहम भूमिका

इससे पहले टीडीपी ने कुछ प्रत्याशियों के नामों का ऐलान भी कर दिया है। हालांकि भारतीय जनता पार्टी बाद में इस गठबंधन में शामिल हुई है, लेकिन भाजपा की लोकसभा चुनाव में अहम भूमिका होने वाली है। वहीं भाजपा के शामिल होने के बाद टीडीपी, बीजेपी और जेएसपी के गठबंधन को चुनावों में मजबूती मिलेगी। बता दें कि जेएसपी पवन कल्याण की पार्टी है, जो टीडीपी और बीजेपी के साथ चुनाव लड़ेगी।

यह भी पढ़ें- 

Lok Sabha Election: 2014 और 2019 के चुनाव में क्या हुआ था? पिछले आंकड़ों से समझें NDA का दावा

क्या आचार संहिता लागू होने के बाद भी बन सकती है वोटर आईडी

 

Latest India News

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *