इस बड़े शहर में छिपा हो सकता है बेंगलुरु ब्लास्ट का आरोपी! NIA ने जताई आशंका

बेंगलुरु ब्लास्ट का संदिग्ध।- India TV Hindi

Image Source : INDIA TV
बेंगलुरु ब्लास्ट का संदिग्ध।

बीते हफ्ते बेंगलुरु के रामेश्वरम कैफे में हुए ब्लास्ट की जांच कर रही NIA ने एक के बाद एक कई खुलासे किए हैं। जानकारी के मुताबिक, NIA इस मामले में बेंगलुरु सेंट्रल जेल में बंद 4 आरोपियों से पूछताछ कर रही है।  CCTV फुटेज से इस बात की पुष्टि हो गई है कि बम धमाके को अंजाम देने के बाद संदिग्ध बेंगलुरु से कई बस बदलकर बल्लारी पहुंचा था। अब एनआईए ने इस बात की आशंका जाहिर की है कि ब्लास्ट का संदिग्ध आरोपी पुणे जैसे बड़े शहर में छिपा हो सकता है। 

अब तक क्या-क्या पता चला?

बम धमाके को अंजाम देने के बाद संदिग्ध बेंगलुरू से कई बस बदलकर बल्लारी पहुंचा था। 1 मार्च की शाम 8 बजे से 9 बजे के बीच इसे बल्लारी बस स्टेंड पर देखा गया। NIA की एक टीम जांच के लिए बल्लारी भी भेजी गई है। जांच की टीम को शक है कि बल्लारी से आगे की यात्रा करने से पहले बम ब्लास्ट के संदिग्ध ने बल्लारी में किसी से मुलाकात की थी। 

इस तरह पुणे पहुंच सकता है संदिग्ध

सूत्रों के मुताबिक, संदिग्ध बल्लारी से गोकर्णा जाने वाली बस में सवार हुआ और वो रास्ते में उतर गया। टीम को आशंका है कि वो भटकल में उतरा था और हो सकता है कि वहां से पुणे के लिए निकल गया हो। NIA की अलग-अलग टीम इन सभी कड़ियों को जोड़ने की कोशिश कर रही है ताकि संदिग्ध तक पहुंचा जा सके। इसके साथ ही जेल में बंद 4 आरोपी मोहम्मद सुलेमान, सैयद समीर, रहमान हुसैन और अनस इकबाल शेख को बॉडी वारंट पर लेकर इनसे सघन पूछताछ की जा रही है। 

बम प्लांट करने के बाद मस्जिद गया संदिग्ध

NIA सूत्रों के मुताबिक, BMTC की बस में सवार होकर आया संदिग्ध कैफे में बम प्लांट करने के बाद उसी इलाके की एक मस्जिद में गया। इस मस्जिद में उसने शुक्रवार की जुमे की नमाज अदा की। वहीं आस-पास अपने कपड़े भी बदले। NIA ने इस मस्जिद के पास से उस बेसबॉल कैप को बरामद कर लिया है जो कि इस संदिग्ध ने पहना हुआ था।

ये भी पढ़ें- बम प्लांट कर के मस्जिद में नमाज पढ़ने गया था बेंगलुरु ब्लास्ट का आरोपी, नई तस्वीरें जारी




बेंगलुरु की जेल में कैदियों को बनाया जा रहा था कट्टरपंथी, 7 राज्यों में NIA की छापेमारी

Latest India News

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *