प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रीजनल रैपिड रेल के दूसरे चरण का किया उद्घाटन, यहां जानें RRTS की पूरी जानकारी

प्रतीकात्मक फोटो- India TV Hindi

Image Source : NCRTC X HANDLE
प्रतीकात्मक फोटो

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज देश के पहले अंडर वाटर मेट्रो ट्रेन का उद्घाटन करने के लिए कोलकाता में मौजूद हैं। PM मोदी ने कोलकात से ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की मदद से गाजियाबाद में देश की पहली रैपिड रेल के दूसरे चरण का उद्घाटन किया है। इस दौरान उन्होंने नमो भारत ट्रेन को हरी झंडी भी दिखाई। बता दें कि RRTS का यह कार्यक्रम गाजियाबाद के मुरादनगर रैपिड रेल स्टेशन पर हो रहा है। मुरादनगर में हो रहे इस कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी, गाजियाबाद के सांसद जनरल वी.के.सिंह और मेरठ के सांसद राजेंद्र अग्रवाल मौजूद रहे। इसके अलावा कार्यक्रम में NCRTC के सभी अधिकारी भी मौजूद रहे।

कितने किलोमीटर का है दूसरा फेज

प्रधानमंत्री ने RRTS के जिस दूसरे फेज का आज यानी 6 मार्च 2023 को उद्घाटन किया है वह कुल 17 किलोमीटर का है। इस 17 किलोमीटर के रूट में कुल 3 स्टेशन आएंगे। इन स्टेशनों का नाम मुरादनगर, मोदीनगर साउथ और मोदी नगर नॉर्थ है। बता दें कि दिल्ली-मेरठ RRTS कॉरिडोर पर चलने वाली नमो भारत सेवाएं अब कुल 34 किलोमीटर के सेक्शन पर निर्बाध रूप से चलेंगी। पिछले साल अक्टूबर में प्रधानमंत्री मोदी ने 17 किलोमीटर के लंबे प्रायोरिटी सेक्शन पर रेल चलाने के लिए हरी झंडी दिखाई थी।

अगर हम आज के फेज को भी जोड़ दें तो दिल्ली को मेरठ से जोड़ने वाली देश की पहली RRTS कॉरिडोर की 34 किलोमीटर सेक्शन पर रेल बिना किसी समस्या के दौड़ेगी। इस 34 किलोमीटर के सेक्शन में कुल 8 स्टेशन होंगे। इन 8 स्टेशनों में 3 स्टेशन का उद्घाटन आज किया गया है।

RRTS का क्या होगा फायदा?

PM गतिशक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान के तहह इस रूट को बनाया जा रहा है। इस रूट के जरिए RRTS स्टेशनों को हवाई अड्डों, रेलवे स्टेशनों, मेट्रो स्टेशनों, ISBT और सिटी बस स्टॉप के साथ एकीकृत किया जा रहा है। इसका मुख्य उद्देशय आर्थिक गतिविधियों को विकेंदीकृत करना, रोजगार, शिक्षा और स्वास्थ्य की पहुंच में सुधार करना और ट्रैफिक को कम करने के साथ ही वायू प्रदूषण को कम करना है।

बता दें कि इस पूरे रूट के तैयार हो जाने के बाद दिल्ली और मेरठ के बीच यात्रा करने में 1 घंटे का समय बचेगा। RRTS एक अत्याधुनिक रेल आधारित यातायात प्रणाली है। इसके जरिए चलने वाली नमो भारत ट्रेनों की परिचालन गति 160 किमी प्रति घंटा है।

ये भी पढ़ें-

इंडिया गेट के पास कर्तव्य पथ पर युवक पर चाकू से हमला, हरकत में आई पुलिस

PM मोदी ने कोलकाता को दिया पहली अंडरवॉटर मेट्रो का तोहफा, नदी के तल से भी 13 मीटर नीचे है टनल; जानें खासियत

 

Latest India News

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *